SQL क्या है? SQL Commands, DDL, DML, DCL, लाभ, इतिहास और बहुत कुछ

इंटरनेट पर मौजूद हर वेबसाइट का डेटा (Data) उसके डेटाबेस में स्टोर होता है। यह सभी डेटा टेक्स्ट, वीडियो, फोटोस के फॉर्मेट में होता है। इसी डेटाबेस को मैनेज करने के लिए SQL Language का उपयोग किया जाता है।

SQL की मदद से डेटाबेस में डाटा को संग्रहित (Store), हेरफेर (Manipulate), पुनर्प्राप्त (Retrive) किया जाता है।

SQL का उपयोग MySQL, SQL Server, MS Access, Oracle, Sybase, Informix, Postgres इन डेटाबेस सिस्टम में किया जाता है।

तो चलिए SQL क्या होता है और विस्तार से जानते हैं।

sql kya hai

SQL क्या है?

SQL का पूरा नाम है Structured Query Language, एसक्यूएल (SQL) को relational databases(RDBMS) की स्टैंडर्ड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज कहां जाता है।

RDBMS

RDBMS का फुल फॉर्म है Relational Database Management System.

जिसे Relational Database भी कहा जाता है। Relational database में एक और एक से ज्यादा टेबल्स एक दूसरे से जुड़े होते हैं, टेबल्स में डाटा रो और कॉलम में स्टोर होता है। टेबल के हर कॉलम में अलग-अलग कैटेगरी का डाटा स्टोर होता है। उदाहरण – customerID, customer name, customer address इन सब के अलग-अलग कॉलम होंगे।

SQL कमांड क्या है

SQL query या statements लिखने के लिए SQL Commands का उपयोग होता है। इन कमांड्स की मदद से ही Database में अलग-अलग ऑपरेशन परफ्रॉम होते हैं।

हर कमांड की अपनी पहचान होती है। हमने नीचे सबसे महत्वपूर्ण SQL Commands को बताया है।

  • SELECT – डेटाबेस से डेटा निकालता है।

Syntax – SELECT column1, column2, … FROM table_name;

  • UPDATE – डेटाबेस में डेटा अपडेट करता है।

Syntax – UPDATE table_name

SET column1 = value1, column2 = value2, …

WHERE condition;

  • DELETE – डेटाबेस से डेटा हटाता है।

Syntax – DELETE FROM table_name WHERE condition;

  • INSERT INTO – यह डेटाबेस में नया डेटा सम्मिलित (insert) करता है।

Syntax – INSERT INTO table_name (column1, column2, column3, …)

VALUES (values1, values2, values3, …);

  • CREATE DATABASE – एक नया डेटाबेस बनाता है।

Syntax – CREATE DATABASE database_name;

  • CREATE TABLE – एक नई टेबल बनाता है।

Syntax – CREATE TABLE table_name (

column1 datatype,

column2 datatype,

…..);

  • ALTER TABLE – एक टेबल को संशोधित करता है।

Syntax – ALTER TABLE table_name

ADD column_name datatype;

  • DROP TABLE – एक टेबल हटाता है।

Syntax – DROP TABLE table_name;

  • CREATE INDEX – एक इंडेक्स बनाता है।

Syntax – CREATE INDEX index_name

ON table_name (column1, column2, …);

  • DROP INDEX – एक इंडेक्स को हटाता है।

Syntax – DROP INDEX index_name ON table_name;

Types of SQL Commands in Hindi

SQL में मुख्यत पांच कमांड्स है। हमने ऊपर बताए हुए कमांड्स इन 5 कमांड्स में डिवाइड होते हैं।

तो चलिए एक एक करके सभी कमांड्स को समझते हैं।

1. Data Definition Language (DDL)

DDL में नया टेबल बनाना, टेबल को डिलीट करना, एक टेबल को संशोधित करना यह काम होते हैं। इससे एक टेबल का स्ट्रक्चर बदलता है।

DDL में जो भी चेंजस होते हैं वह परमानेंटली सेव होते हैं।

DDL में नीचे दिए गए कमांड शामिल होते हैं।

  • CREATE
  • ALTER
  • DROP
  • TRUNCATE

2. Data Manipulation Language (DML)

DML का उपयोग डेटाबेस को modify करने के लिए किया जाता है। डेटाबेस में होने वाले सभी बदलाव DML के द्वारा ही होते हैं।

DML कमांड परमानेंटली सेव नहीं होते मतलब डाटा को रोलबैक किया जा सकता है।

DML में शामिल कमांड के नाम नीचे है।

  • INSERT
  • UPDATE
  • DELETE

3. Data Control Language (DCL)

DCL कमांड का उपयोग किसी भी डेटाबेस उपयोगकर्ता को अधिकार देने और वापस लेने के लिए किया जाता है।

DCL में मौजूद कमांड

  • Grant
  • Revoke

4. Transaction Control Language (TCL)

TCL कमांड का उपयोग सिर्फ DML कमांड के साथ किया जाता है जैसे कि सिर्फ INSERT, DELETE और UPDATE.

यह ऑपरेशंस डेटाबेस में ऑटोमेटिकली होते हैं इसलिए इन कमांड का उपयोग टेबल बनाते और डिलीट करते समय नहीं होता।

TCL में नीचे के कमांड शामिल है।

  • COMMIT
  • ROLLBACK
  • SAVEPOINT

5. Data Query Language (DQL)

DQL का उपयोग डेटाबेस से डाटा लाने के लिए किया जाता है।
यह सिर्फ एक कमांड का उपयोग करता है। वह SELECT है।

SQL के लाभ

SQL के बहुत से लाभ है। इसलिए यह लोकप्रिय और डिमांडिंग है।

1. Faster Query Language – डेटाबेस से बहुत ज्यादा डेटा को भी यह बहुत फास्ट और अच्छे से निकालता है। डेटाबेस में नया डाटा डालना, हटाना और हेराफेर करना SQL में बहुत जल्द होता है।

2. No Coding Skills – डेटा रिसेट मतलब डेटा को निकालने के लिए अच्छे कोडिंग ज्ञान की जरूरत नहीं है। यह सब बेसिक कीवर्ड्स जैसे SELECT, INSERT INTO, UPDATE से होता है। यही कारण है कि यह एक यूजर फ्रेंडली लैंग्वेज है।

3. Interactive Language – यह लैंग्वेज सीखने और समझने के लिए बहुत ही आसान है। मुश्किल से मुश्किल क्वेरी का answer इसमें आसानी से निकाल सकते हैं।

SQL का इतिहास

SQL Programming Language को पहली बार 1970 के दशक में IBM के शोधकर्ता रेमंड बॉयस और डोनाल्ड चैंबर्लिन द्वारा विकसित किया गया था। SQL को उन दिनों SEQUEL के नाम से जाना जाता था।

1974 में structured query language पहली बार दिखाई दी।

1978 में IBM ने Codd’s के विचारों को विकसित करने के लिए काम किया और सिस्टम/R नामक एक उत्पाद जारी किया।

1986 में IBM ने रिलेशनल डेटाबेस का पहला प्रोटोटाइप विकसित किया जिसे ANSI ने मानकीकृत किया। पहला लिस्ट डेटाबेस रिलेशनल सॉफ्टवेयर द्वारा जारी किया गया था जिसे बाद में Oracle के नाम से जाना जाने लगा।

SQL और MySQL में क्या अंतर है

SQL एक query language है, वही MySQL एक relational database जो डेटाबेस में query लिखने के लिए SQL का उपयोग करता है।

SQL को कैसे सीखें

अगर आप SQL को सीखना चाहते हैं तो आप इसे बिना पैसा खर्च करें आसानी से सीख सकते हैं। आजकल इंटरनेट से कुछ भी सीखना बहुत आसान हुआ है। इसलिए मैं आपको वेबसाइट से ट्यूटोरियल पढ़कर या यूट्यूब से वीडियो देखकर SQL को सीखने की सलाह दूंगा।

SQL ट्यूटोरियल के लिए मैं आपको कुछ वेबसाइट सजेस्ट करता हूं।
1. www.w3schools.com
2. www.tutorialspoint.com
3. www.geeksforgeeks.org

मुझे आशा है की आपको SQL क्या है और इसका पूरा ओवरव्यू पता चला होगा। मैं चाहता हू की आप इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *