What is Cryptocurrency in Hindi – क्रिप्टोकरेंसी के प्रकार, फायदे, नुकसान

करेंसी (Currency) क्या है

हम Cryptocurrency क्या है यह जानने से पहले करेंसी क्या होती है यह जानते है।

हर देश में चीजें खरीदने के लिए मतलब व्यवहार करने के लिए मुद्रा (currency) होती है। जिसकी एक value होती है। इस मुद्रा को सरकार द्वारा बनाया जाता है। यह फिजिकल रूप से उपलब्ध होती है। जैसे कि भारत की मुद्रा रुपया है, अमेरिका की डॉलर, सऊदी अरेबिया में रियाल, इंग्लैंड में यूरो है। इस तरह से दुनिया में हर देश की अपनी अपनी मुद्रा (currency) है।

what is Cryptocurrency meaning in hindiCryptocurrency क्या होता है

दो अलग-अलग शब्दों से मिलकर बना है cryptocurrency. जिसमें crypto का मतलब है छुपा हुआ/हुई और currency का मतलब है पैसा, इस तरह से cryptocurrency का हिंदी में मतलब है छुपा हुआ पैसा या डिजिटल पैसा

cryptocurrency kya hai

Cryptocurrency एक डिजिटल या वर्चुअल करेंसी है। जिसे छुआ नहीं जा सकता। क्योंकि यह किसी सिक्के या नोट की तरह मौजूद नहीं है। यह पूरी तरह से एक डिजिटल मुद्रा है। यह सिर्फ ऑनलाइन उपलब्ध है।

कई क्रिप्टोकरंसी ब्लॉकचेन तकनीक पर आधारित है। क्रिप्टोकरेंसी की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यह किसी भी केंद्रीय प्राधिकरण द्वारा जारी नहीं की जाती है। मतलब इसके ऊपर किसी भी बैंकिंग या सरकारी अथॉरिटी का कंट्रोल नहीं है।

Cryptocurrency को किसने बनाया?

2008 – Bitcoin नामक एक पोस्ट को इस साल internet पर पोस्ट किया था। यह पोस्ट करने वाला शक्स अपने आपको सतोशी नाकामोतो कहलाता है। लेकिन आजतक यह शक्स कोन है यह पता नहीं चला है।

2009 – इस साल Bitcoin software पहली बार जनता के लिए उपलब्ध किया गया।

Types of Cryptocurrency in Hindi – क्रिप्टोकरेंसी के प्रकार

पहली ब्लॉकचेन आधारित क्रिप्टोकरंसी का नाम है bitcoin. जो अभीभी सबसे लोकप्रिय और सबसे मूल्यवान बनी हुई है। लेकिन इसके अलावा भी कुल 1800 से ज्यादा क्रिप्टोकरेंसीज उपलब्ध है। जिसमें एथेरियम (ETH), लेटकोईन (FAIR), डॉगकॉइन (DASH), फेयरकॉइन (FAIR), डैश (DASH), पीरकॉइन (PPC), रिपल (XRP) यह लोकप्रिय बनी है।

कैसे काम करती है cryptocurrency?

जैसे कि हमने ऊपर बताया क्रिप्टोकरंसी एक डिजिटल करेंसी है। इसलिए इसका सिर्फ ऑनलाइन ही लेन देन होता है। इस लेनदेन को पूरा करने के लिए ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है। इसे एक डिसेंट्रलाइज सिस्टम के जरिए मैनेज किया जाता है।

जब एक आदमी दूसरे आदमी के क्रिप्टोकरेंसी ट्रांसफर करता है तो यह दूसरे आदमी के डिजिटल वॉलेट में जाता है। लेकिन इस ट्रांजैक्शन के बीच माइनिंग के द्वारा जब तक उस ट्रांजैक्शन को वेरीफाई करके ब्लॉकचेन में ऐड नहीं किया जाता तब तक यह ट्रांजैक्शन पूरा नहीं होता।

Cryptocurrency के लेनदेन में किसिभी तीसरे संस्थान या आदमी का हस्तक्षेप नहीं होता।

आगे हम माइनिंग क्या होती है इसके बारे में जानेंगे।

ब्लॉकचेन क्या है

ब्लॉकचेन में बहुत से ब्लॉक एक दूसरे से जुड़े होते हैं और हर ब्लॉक में क्रिप्टोकरंसी के हर ट्रांजैक्शन का इंक्रिप्टेड डेटा स्टोर होता है। ब्लॉकचेन में जब एक ब्लॉक भर जाता है तो दूसरा ब्लॉक क्रिएट होता है और वह ब्लॉकचैन में सामने से जुड़ जाता है।

यह ब्लॉकचेन फाइल्स दुनिया के बहुत सारे कंप्यूटर में स्टोर होते है। इसलिए इसके डेटा में चेंज करना मुश्किल है।

Cryptography क्या हैं

हमने ऊपर बताया कि ब्लॉकचेन में ब्लॉक एक दूसरे से जुड़े होते हैं। यह ब्लॉक क्रिप्टोग्राफी के द्वारा एक दूसरे से जुड़ते है।

क्रिप्टोग्राफी यह सुनिश्चित करने की तकनीक है कि जो कुछ भी दो उपयोगकर्ताओं के बीच संचार हो रहा है वह तीसरे व्यक्ति को ना पता चले। आधुनिक समय में क्रिप्टोग्राफी की सख्त जरूरत है संवेदनशील डेटा मौजूद है जिसे संरक्षित करने की आवश्यकता है।

माइनिंग क्या है

क्रिप्टो करेंसी माइनिंग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके द्वारा हाल के क्रिप्टोकरंसी लेनदेन की जांच की जाती है और ब्लॉकचेन में नए ब्लॉक जोड़े जाते हैं।

क्रिप्टो करेंसी के फायदे

  1. क्रिप्सकरेंसी लेन-देन के लिए कोई फीस चार्ज नहीं की जाती है। क्योंकि लेन-देन को प्रकृति के सार्वजनिक नेटवर्क के माध्यम से एक ब्लॉकचेन के रूप में जाना जाता है।
  2. क्रिप्टोकरेंसी के साथ लेनदेन वास्तविक समय में होता है और इसमें लगभग 10 मिनट या उससे कम समय लगता है। वही क्रेडिट और डेबिट कार्ड से एक देश से दूसरे देश लेन-देन करने के लिए 2 से 3 दिन लगते हैं।
  3. क्रिप्टोकरेंसी ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर आधारित है और इसे क्रिप्टोग्राफी के द्वारा इंक्रिप्टेड रखा जाता है इसलिए यह बहुत ही सुरक्षित है।

क्रिप्टोग्राफी के नुकसान

  1. क्रिप्टोकरेंसी की वैल्यू बहुत कम समय में ऊपर नीचे होती है, इसलिए इसमें निवेश करना घातक है।
  2. क्रिप्टोकरेंसी यूजर्स और ट्रांजैक्शन के डेटा को सार्वजनिक खाता बही में रखा जाता है। जिसमें नाम और स्थान एक्रिप्ट किए जाते हैं। ग्राहक की पहचान से सुरक्षा संबंधी नियमों का पालन करते समय यह एक समस्या हो सकती है।

Cryptocurrency in india Hindi

बिटकॉइन एक क्रिप्टोकरंसी है। बिटकॉइन को भारत में कानूनी रूप से खरीदनेकी और बेचनेकी अनुमति है। इसके अलावा आप इसे निवेश के रूप में भी रख सकते हैं। लेकिन इसकी देखभाल या सुरक्षा के लिए अभी तक भारत में कोई कानून नहीं बना है।

भारत में क्रिप्टो करेंसी के लोकप्रियता की बात करें तो इसका निवेश अप्रैल 2020 में 923 मिलियन से बढ़कर मई 2021 में लगभग 6.6 बिलियन हो गया। लेकिन फिर भी भारत दुनिया की दूसरे देशों से पीछे है। इसमें निवेश की बात करें तो भारत दुनिया के 25 देशों में 18 व स्थान पर है।

आज के समय में भारत में लगभग 15 मिलियन से अधिक क्रिप्टोकरेंसी के व्यापारी है।

Cryptocurrency में निवेश कैसे करे

स्टेप 1. प्लेटफार्म चुनो

क्रिप्टोकरेंसी में निवेश या क्रिप्टोकरेंसी को खरीदने-बेचने के लिए आपको किसी प्लेटफार्म को चुनना होगा। भारत में WazirX, CoinDCX और CoinSwitch Kuber यह प्लेटफार्म उपलब्ध है।

स्टेप 2. अकाउंट बनाओ

प्लेटफार्म चुनने के बाद उसपर एक अकाउंट बनाओ। यहापर आपको कुछ डॉक्यूमेंट पूछे जाएंगे जिसे आपको देना है। इसके बाद आपको सबसे जरूरी चीज यानी पैसे की जरूरत होगी। इसके लिए आपको अपने बैंक अकाउंट को इसके साथ लिंक करना होगा।

स्टेप 3. क्रिप्टोकरेंसी को चुनो

अपने बैंक अकाउंट को इस प्लेटफार्म से लिंक करने के बाद आप किस क्रिप्टोकरेंसी को खरीदना चाहते है उसे चुनो और पासवर्ड डालकर खरीदो। आजभी दुनिया की सबसे महंगी करेंसी बिटकॉइन ही है। इसके बाद एथेरियम का मार्केट कैप सबसे ज्यादा है। इसके अलावा भी कई क्रिप्टोकरेंसी मौजूद है। जैसे कि dogecoin, XRP, cardano आदि।

खरीदने के बाद कोड को अकाउंट में स्टोर करो। इसे हैक होने से बचाने के लिए एक्स्पर्ट की सलाह लो।

Cryptocurrency के संबंधित FAQ

Q1. सबसे बेस्ट क्रिप्टो करेंसी कौन सी है?

क्रिप्टो करेंसी में Bitcoin सबसे महँगी और no.1 पर है। इसके इतने महंगे होनेका कारण यह है की Bitcoin की कुल संख्या 21 मिलियन (2 करोड़ 10 लाख) ही है।

Q2. शुरुवात में बिटकॉइन की किमत कितनी थी?

बिटकॉइन 2009 में लॉन्च हुआ था तब इसकी किमत 0.060 रुपये थी। और आज 2021 में बिटकॉइन की किमत लगभग 40 लाख के आसपास है।

आज आपने क्या सिखा

मेरे खयाल से आपने आज कुछ ऐसा सिखा है जिसके बारेमे आपको शायद ही पहले से पता होगा। मुझे लगता है की हर किसीको इस जानकारी का पता होना चाहिए।

इस पोस्ट में मैंने What Cryptocurrency in Hindi के बारेमे सबकुछ बताने का प्रयास किया है। लेकिन फिरभी आपको कुछ प्रश्न है तो कमेंट में जरुर पूछो।

दोस्त cryptocurrency को लेकर दो विचार समाज में है। कोई इसे अच्छा बोलता है तो कोई इसे बुरा कहता है। अब आपको पैसला करना है की आपको इसमे निवेश करना है या नहीं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *