कम्पाइलर और इंटरप्रेटर में क्या अंतर है? (Compiler Vs Interpreter in Hindi)

Compiler किसे कहते है?

Compiler एक Software है जो कुछ High-Level language (जैसे Java) में लिखे गए Source Code को Machine Language में अनुवाद (Convert) करता है। प्रोग्राम को परफॉर्म योग्य बनाने के लिए यह चरण करना आवश्यक होता है। ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि कंप्यूटर केवल Binary Language ही समझता है।

Types of Compiler in Hindi

  1. Cross Compilers
  2. Bootstrap Compilers
  3. Source to Source (Transcompiler)
  4. Decompiler

Interpreter किसे कहते है?

Interpreter एक Program है जो सीधे High-Level Language में निर्देशों को Machine Code में परिवर्तित किए बिना निष्पादित (execute) करता है। प्रोग्रामिंग में हम किसी प्रोग्राम को दो तरह से निष्पादित (execute) कर सकते हैं। पहला, Compilation के माध्यम से और दूसरा, Interpreter के माध्यम से। ज्यादातर कंपाइलर का उपयोग सामान्य रूप से किया जाया है।

Types Of Interpreter in Hindi

  1. Bytecode Interpreters
  2. Threaded code Interpreters
  3. Abstract Syntax Tree Interpreters
  4. Self Interpreters
Compiler Vs Interpreter in Hindi

कम्पाइलर और इंटरप्रेटर में क्या अंतर है? (Compiler Vs Interpreter in Hindi)

CompilerInterpreter
1. यह एक ही समय में सरे Code को Machine Code में
Convert करता है।
1. यह एक समय में केवल एक ही Statement को
Convert करता है।
2. यह एक Intermediate Code को Generate करता है। इसलिए अधिक Memory का उपयोग किया जाता है।2. यह किसीभी प्रकार की Intermediate Code को Generate नहीं करता. इसलिए यह ज्यादा Memory का उपयोग नहीं करता।
3. पूरे Program को एक साथ Compile किया जाता है और फिर यह सभी errors को एक साथ दिखाता है। इसलिए, डिबगिंग मुश्किल है।3. यदि कोई error आता है तो यह कंपाइलेशन को रोक देता है। इसलिए, डिबगिंग आसान है।
4. यह Source code को analyze करने के लिए अधिक समय लेता है।4. यह Compiler के तुलना में Analyze करने में कम समय लेता है।
5. प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे की C, C++, Java कम्पाइलर का उपयोग करती है।5. प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे की Python, Ruby, PHP यह Interpreter का उपयोग करती है।

आखिर में..

उम्मीद है आपको कम्पाइलर और इंटरप्रेटर में क्या अंतर होता है यह समाज आया होगा। यदि आप एक Computer Science Student है तो आपको यह पता होना बहुत ही ज्यादा जरुरी है। क्युकी आपको जॉब के लिए Interview देते समय यह सवाल जरुर पूछा जाता है। इसके आलावा आपके एग्जाम में भी यह सवाल पूछा जाता है।

इसलिए आप इसे अच्छे से समज लीजिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.