computer science

OOPS Concepts in C++ in Hindi|हिंदी में OOPS (C++)

OOPs Concepts in C++ in hindi

OOP का full form है Object-Oriented Programming. C++ एक Object-Oriented Programming लैंग्वेज है। Object-Oriented Programming में सभी code Object के बेसिस पर लिखा जाता है। Object मतलब रियल लाइफ object होते है जैसे की पेन, बुक, कंप्यूटर. OOPs में आप complex code को Object की मदद से स्मॉलर प्रॉब्लम में तोड़ सकते हो और हल …

OOPS Concepts in C++ in Hindi|हिंदी में OOPS (C++) Read More »

Object oriented programming Kya Hai in Hindi (OOPs के विशेषता)

Object Oriented Programming kya hai

इस पोस्ट में, हम object oriented programming के बारे में सीखने वाले है। जिसमें हम OOPs क्या है, OOPs के features, OOPs के advantages और disadvantages को भी समझने वाले हैं। OOPs (object oriented programming kya hai in Hindi) Object-oriented programming यह एक programming करने का तरीका है। इसमें सभी चीजें class और object की …

Object oriented programming Kya Hai in Hindi (OOPs के विशेषता) Read More »

(RDBMS) रिलेशनल डेटाबेस क्या है (DBMS और RDBMS में अंतर)

RDBMS kya hai

रिलेशनल डेटाबेस क्या है रिलेशनल डेटाबेस मतलब ऐसा डाटा जो टेबल की फॉर्म में होता है। रिलेशनल डेटाबेस में एक टेबल दूसरे टेबल से रिलेशनशिप दर्शाते हैं। RDBMS क्या है [what is RDBMS in Hindi] आरडीबीएमएस का पूरा नाम है Relational Database Management System. RDBMS एक सॉफ्टवेयर सिस्टम है जिसका उपयोग डाटा को table की …

(RDBMS) रिलेशनल डेटाबेस क्या है (DBMS और RDBMS में अंतर) Read More »

What is Cryptocurrency in Hindi – क्रिप्टोकरेंसी के प्रकार, फायदे, नुकसान

cryptocurrency kya hai

करेंसी (Currency) क्या है हम Cryptocurrency क्या है यह जानने से पहले करेंसी क्या होती है यह जानते है। हर देश में चीजें खरीदने के लिए मतलब व्यवहार करने के लिए मुद्रा (currency) होती है। जिसकी एक value होती है। इस मुद्रा को सरकार द्वारा बनाया जाता है। यह फिजिकल रूप से उपलब्ध होती है। …

What is Cryptocurrency in Hindi – क्रिप्टोकरेंसी के प्रकार, फायदे, नुकसान Read More »

IP Address Kya Hai – IP Address प्रकार (Private, Public, Static, Dynamic)

IP Address Kya Hai

IP address का उपयोग इंटरनेट यूज करने वाले डिवाइस को यूनिक पहचान दिलाने के लिए किया जाता है। उदाहरण – 4 मोबाइल के 4 यूनिक IP address होते हैं। इस तरह से इंटरनेट यूज करने वाले हर फिजिकल डिवाइस को एक यूनिक IP address से असाइन किया जाता है, जिसने मोबाइल्स, कंप्यूटर, टेबलेट यह डिवाइस …

IP Address Kya Hai – IP Address प्रकार (Private, Public, Static, Dynamic) Read More »