Blogger ki SEO setting kaise kare – संपूर्ण setting

आप नए ब्लॉगर है या पुराने ब्लॉगर है यदि आपका ब्लॉग ब्लॉगर पर बना है तो आपको blogger ki SEO setting kaise kare यह आज का पोस्ट जरूर पढ़ना चाहिए।

क्योंकि बिना SEO सेटिंग के आपका ब्लॉग आगे नहीं बढ़ सकता क्योकि लोग उसे देख ही नहीं पाएंगे।

यहां कुछ settings ऐसी है जिसे करने के बाद आपके ब्लॉग की ग्रोथ तुरंत बढ़ सकती है।ज्यादातर नए ब्लॉगर ब्लॉगर पर ब्लॉग तो बनाते हैं लेकिन उन्हें blogger की settings करने में बहुत परेशानी होती है।

इसी परेशानी का हल मैं आज लेकर आया हूं यहां पर मैं आज ब्लॉगर की सभी settings आपको बताने वाला हूं।

यदि आप चाहते हो कि आपका ब्लॉग Google search engine में फर्स्ट पेज पर रैंक करें तो आपको हमारा blogger settings in Hindi यह पोस्ट आखिर तक जरूर पढ़ना है।

Blogger ki SEO setting kaise kare

आपको blogger की SEO setting करने के लिए सबसे पहले log in करके अपने blogger dashboard में जाना है।

Left side में आपको settings का ऑप्शन दिखेगा उसके ऊपर क्लिक करना है। अब आपके सामने blogger की सभी setting खुल जाएगी और यहां से हम setting करना शुरू करेंगे।

Basic

1. Title – यहां पर क्लिक करके आपको blog के लिए title लिखना है। जिसमें आप अपने blog का नाम भी लिख सकते हो। लिखने के बाद save जरूर करो।(जो ऊपर header में दिखेगा)

2. Description – यहां पर क्लिक करके आपको blog description लिखना है। जिसमें आपको blog किस बारे में है यह लिखना है और save करना है।

यह भी पढो – Blog Description क्या है और कैसे लिखे? with example

3. Blog language – यहां पर क्लिक करके आपको अपने blog की language चूस करके save करना है।

4. Adult Content – यहा आपको जो button दिख रहा है उसे off रखना है। यहां आपको पूछ जा रहा है कि आपके site में adult content है या नहीं। तो आपको नहीं बोलने के लिए button off रखना है।

5. Google analytics property ID – यहापर आपको अपने google analytics की ID डालनी है।

6. Favicon – यहा क्लिक करके आप अपने ब्लॉग के लिए favicon icon लगा सकते है।

Privacy

Visible to search engines – यहां पर आपको पूछा जा रहा है कि आपका ब्लॉग सर्च इंजन में दिखाना है या नहीं। तो यहांपर आपको अपना ब्लॉग सर्च इंजन में दिखाने के लिए दिए हुए button को on करना है।

Publishing

1. Blog address – यहां पर आपको अपनी site का name यानी blog address डालना है।

2. Custom domain – यहां पर क्लिक करके आपको अपने साइड का Custom domain name डालना है। मतलब जिस domain को आप ने खरीदा है वह domain यहां पर डालना है। (www के साथ)

3. Fallback subdomain – इसे default छोड़ दो।

4. Redirect domain – यहां पर आपका custom domain without www से with www में रीडायरेक्ट होगा।

उदाहरण के लिए – skillohindi.in से www.skillohindi.in

मतलब कोई भी यूजर सर्च इंजन में सिर्फ skillohindi.in सर्च करता है तो वह ऑटोमेटिकली www.skillohindi.in पर ही पहुंच जाएगा। ऐसा करने के लिए आपको दिए हुए button को on रखना है।

HTTPS

1. HTTPS availability – इसके लिए दिए हुए button को आप को On ही रखना है। ऐसा करने से आपकी साइट https की मदद से सुरक्षित रहती है। ( जिन्होंने कस्टम डोमेन लगाया है सिर्फ उन्हें यह option दिखेगा)

2. HTTPS redirect – इसके लिए दिए हुए button कोभी आपको On रखना है। यहां पर यह बताया गया है कि जब कोई यूजर आपके site को http के साथ सर्च करता है तो भी ऑटोमेटिकली आपकी site https के साथ ही खुलेगी।(मतलब आपकी साईट http से https में redirect होगी)

Permissions

1. Blog admins and authors – यह आपको सभी ब्लॉग admins और authors का रोल दिखेगा आप उनका रोल भी change कर सकते हो।

2.Pending author invites – यहासे आप जिन्हें blog author बनाना चाहते है बना सकते हो।

3. Invite more authors – यहांपर क्लिक कर के आप ब्लॉग के लिए नये लेखक(author) को आमंत्रित करने के लिए invite ई-मेल भेज सकते हो।

4. Reader access – यहां पर क्लिक करके आप यह तय कर सकते हो कि आपका ब्लॉग किसे दिखाना है। तो यहां पर आपको public ऑप्शन को चुनकर save करना है।

5. Custom readers – यदि उपर के ऑप्शन में public की जगह custom readers को चुना होता तो यह ऑप्शन आपके लिए खुल जाता। इसलिए इसे छोड़के आगे बढ़ते हैं।

6. Pending custom reader invites – यह भी आपको off ही नजर आएगा। आगे बढ़ते हैं।

7. Invite more readers – यह भी आपको off ही नजर आएगा।

Posts

1. Max post shown on main page – यहां पर क्लिक करके आप तय कर सकते हो कि आपके main page पर आपको कितने post दिखाने हैं।

2. Archive frequency – यह आपको off नजर आएगा।

3. Poster template (optional) – इसे default छोड़ दो।

4. Image lightbox – यदि आप यहां पर दिए हुए button को on करते हो तो जब यूज़र आपके ब्लॉग पोस्ट की image पर क्लिक करेगा तो वहां पर उसे पोस्ट हाइड होकर सिर्फ इमेज दिखेगी। (आपको तय करना है कि button को on करना है या नहीं)

5. Ideas panel – इसके लिए दिए हुए button को आपको on ही रखना है। क्योंकि ऐसा करने से आपको गूगल के द्वारा आपके ब्लॉग विषय के अनुसार नए-नए topics और questions सजेस्ट किए जाएंगे।

Comments

1. Comments location – इसे default छोड़ दो।

2. Who can comment? – यहां पर आपको users with Google accounts को चुनके save करना है। ऐसा करने से आपके ब्लॉग पर सिर्फ वही लोग कमेंट कर पाएंगे जिनका Google Account है।

3. Comment moderation – यहां पर आपको Always क्या ऑप्शन को चूस करके save करना है। ऐसा करने से कोई भी आपके ब्लॉग पर कमेंट करेगा तो उसे आपके मॉडरेशन से पहले नहीं दिखाया जाएगा।

4. For post older than – आपने उपर के option में always चुना है इसलिए यह आपके लिए activate नहीं है। इसे default छोडो।

5. Email moderation requests to – आपके ब्लॉग पर जो comment आ रहे है वह किस email id पर आने चाहिए वह आपको यहा लिखना है।

6. Reader comment captcha – इसके लिए दिए हुए button को आप on करोगे तो यूजर को कमेंट करते वक्त word verification करना होगा।

7. Comment form message – यहां पर क्लिक करके आपको कमेंट करने वाले user के लिए एक message लिखना है।
उदाहरण – please do not any spam link in the comment box.

Email

1. Post using email – इसे default छोड़ दो।

2. Comment notification email – इसे default छोड़ दो।

3. Pending comment notification emails – इसे default छोड़ दो।

4. Invite more people to comment notification emails – इसे default छोड़ दो।

5. Pending post notification emails – इसे default छोड़ दो।

6. Invite more people to post notifications – इसे default छोड़ दो।

Formatting

1. Time zone – यहां पर क्लिक करके आपको अपने एरिया के Time zone को सिलेक्ट करना है। यदि आप इंडिया से है तो आपको (GMT +05:30) India Standard Time – Kolkata सिलेक्ट करके save करना है।

2. Date header format – यहां पर क्लिक करके आपको यह चुनना है कि आप अपने ब्लॉग में किस format में date दिखाना चाहते। यह चुनने के बाद save जरूर करना है।

3. Achive index data format – इसे बाय डिफॉल्ट छोड़कर आपको आगे बढ़ना है।

4. Timestamp format – आप अपने ब्लॉग पर किस तरह से time दिखाना चाहते हो वह format चुनकर save करना है।

5. Comment timestamp format – इसे default छोड़ दो।

Meta tags

1. Enable search description – इसके लिए दिए हुए button को आपको जरूर on करना है। क्योंकि इसे on करने के बाद ही आपके पोस्ट एडिटर के sidebar में Search Description का ऑप्शन दिखाई देगा। (आप निचे देख सकते हो)

अगर आप इस ऑप्शन को on नहीं करोगे तो आपको search description का ऑप्शन नहीं दिखाई देगा।

2. Search description – यहां पर आप अपने ब्लॉग के बारे 150 word की description लिखना है जिसमे आपके keyword आने चाहिए।

Error and redirects

1. Custom 404 – इसे default छोड़ दो।

2. Custom redirects – यहासे आप अपना पोस्ट redirect कर सकते हो। इसके लिए आपको यहापर क्लिक करने के बाद add बटन पर क्लिक करना है। उसके बाद आपको पोस्ट redirect करने के लिए

from में सिर्फ URL का slash के बाद का ही पार्ट लिखना है और To में आपको वह URL लिखना है जहापर आप अपना URL redirect करना चाहते हो लेकिन यहापर भी आपको सिर्फ slash के बाद का ही पार्ट लिखना है.

यदि आप permanent redirection करना चाहते हो तो आपको दिए हुए बटन को on करना है और Ok पर क्लिक करना है।

Crawlers and indexing

1. Enable custom robots.txt – इसे on करके आपको नीचे दिए हुए custom robots.txt पर क्लिक करके generate किये हुए sitemap को यहापर paste करना है। इसके लिए यह पढो – blogger ke liye sitemap kaise banaye?

2. Enable custom robots header tags – इसे आप को on करना है।

  • Home page tags – इस पर क्लिक करके आपको सिर्फ all और noodp को on करके save करना है।
  • Archive and search page tags – यहां पर क्लिक करके आपको सिर्फ noindex और noodp को on करके save करना है।
  • Post and page tags – यहां पर क्लिक करके आपको सिर्फ all और noodp को on करके save करना है।

Monetization

Enable custom ads.txt – इसे on करके नीचे custom ads.txt में जब आपको Google AdSense का approval मिलेगा तो ads का code यहां पर डालना है।

Manage blog

1. Import content – आप यहासे किसीभी file को import कर सकते हो।

2. Back up content – आप यहा से अपने site का Backup ले सकते हो। इसके लिए आपको इस पर क्लिक करके download करना है।

3. Videos from your blog – यहासे आप अपने site की सभी विडियो को एक साथ देख सकते हो।

4. Remove your blog – यहां से आप अपने ब्लॉग को permanently delete कर सकते हो।

Site feed

1. Allow blog feed – यहां पर क्लिक करके आपको Full को चूस करके save करना है।

2. Post feed redirect URL – जब आप feed burner के URL को create करेंगे तो उसका URL आपको यहापर submit करना है।

3. Post feed footer – इसे default छोड़ दो।

4. Title and enclosure links – इसे default छोड़ दो।

Blogger settings kaise kare

हमने आपको सभी important setting बताई है। मुझे उम्मीद है की आपको सभी setting समज आयी होगी। लेकिन फिरभी आपको blogger की setting करने में कोई दिक्कत आ रही है तो comment box में जरुर पूछो। मैं जरुर reply करूँगा।

यह भी पढो – Blogger me label kaise banaye

आपसे एक request है की यदि आपको हमारी यह पोस्ट usefull लगी हो तो इसे अपने ब्लॉगर दोस्त के साथ जरुर शेयर करो।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *